आदम हव्वा की कहानी हिंदी में | Story of Adam Havva in Hindi

Story of Adam Havva in Hindi, adam and eve story, adam aur hawa hindi, adam and eve cartoon story in hindi, adam and eve children, adam and eve story for kids, adam and eve summary, adam and hawa, adam and eve movie bible

Story of Adam Havva in Hindi:-

आदम-हव्वा ने परमेश्वर की बात नहीं मानी, इसलिए वे मर गए। उत्पत्ति 3:6, 23

परमेश्वर बहुत महान है उसकी सामर्थ्य बार उसने आकाश पृथ्वी और जो कुछ इसमें है उसकी रचना की जब हम देखते हैं, कि परमेश्वर ने क्या क्या रहता है तो हम आश्चर्यचकित रह जाते हैं जो कुछ परमेश्वर ने रचा  वह सब अच्छा था | और प्रस्तुत की महानता और भलाई और सामर्थ्य को प्रकट करती है परमेश्वर ने विभिन्न प्रकार के पेड़-पौधे चंदू और, जानवर बनाये तब उसने मिट्टी लेकर प्रथम मनुष्य को बनाया और उसकी नसों में Jeevanका हवा फुका यह पहला मनुष्य परमेश्वर ने  बनाया और उशका नाम आदम रखा,
तब परमेश्वर ने आदम की पथरी निकाली और उससे स्त्री
को आदम की पत्नी होने के लिए रचा उसे हव्वा नाम दीया गया.परमेश्वर ने स्वरुप में उन्हें रचा इसलिए वह उशकी संगति में आनंद उठाते थे| वहां पर कोई भी मृत्यु नहीं थी|

इसकी वजह से आरंभ होगा और उनके सारे वंशज दुख और मृत्यु के भागीदार हुवे| लेकिन परमेश्वर बहुत दयालु है उसने मनुष्य से प्रेम करना नहीं छोड़ा उसने मनुष्यों को फिर से अपनी संगति में जाने का रास्ता पहले से ही तैयार कर लिया था पवित्र शास्त्र में परमेश्वर योजना को प्रकट करता है जिसके द्वारा वह मनुष्यों को उसके लायक हैं बचाएगा और उनके पापों को दूर करके अपनी संगति में वापस लाएगा

भविष्यवक्ता अब्राहम पर उसने अपनी योजना का एक भाग शोडा अब्राहम ने परमेश्वर पर विश्वास किया और परमेश्वर का आदल भी करता था| परमेश्वर ने आशीष देने का वादा किया और | कहा कि सके द्वारा वह सब देश के लोगों को आशिक देगा औरपरमेश्वर ने उससे वादा किया कि उसके वंश को समुद्र तट की रेत के कणों के समान और आकाश के तारों के समान कर देगा अब्राहम ने परमेश्वर पर विश्वास किया और परमेश्वर ने उसके इस विश्वास के कारण उसे धार्मिक ठहराया और अपने मित्र माना 1 दिन परमेश्वर ने अब्राहम की परीक्षा लेने कि बात की अब्राहम परमेश्वर से विश्वास रखता है या नहीं और उसकी आज्ञा को मानता है कि नहीं परमेश्वर ने कहा कि उसके लिए अपने बेटे का बलिदान देना होगा और इसके द्वारा परमेश्वर ने वादा किया 

Story of Adam Havva in Hindi

अब्राहम जानता था कि इस 1 पुत्र के द्वारा परमेश्वर ने वादा किया है कि वह एक बहुत बड़ा वंस देगा फिर भी उसने परमेश्वर पर विश्वास किया और उसके आज्ञा मानी| इसलिए उसने तैयारी की है कि वह अपने बेटे को मारकर परमेश्वर के लिए बलिदान चढ़ाई अब्राहम ने अपना शूरा ऊठाया लेकिन परमेश्वर ने कहा अब्राहम इस लड़के को नुकसान ना पहुंचा मैं जानता हूं कि तू मेरा भय मानता है और मेरी आज्ञा को मानने के लिए तैयार है तब अब्राहम ने अपने पास को देखा जो अपने सिंह से झाड़ियों में फंसा हुआ था| तो अब्राहम ने उस भेड़ को दिया था |

और उसे अपने पुत्र के बदले परमेश्वर के लिए बलिदान चढ़ाया जब परमेश्वर ने अब्राहम के बेटे की जगह का प्रबंध किया तो उसने लोगों के लिए अपने महान प्रेम को प्रकट किया उसका अपने पिता के प्रेम जैसा है जो अपने पुत्र से प्रेम रखता है और इस घटना के द्वारा परमेश्वर ने यह प्रकट किया कि वह मनुष्यों की जगह पर एक बलिदान उपलब्ध कराएगा |बहुत समय पहले परमेश्वर ने भविष्यवक्ता ऊपर ही प्रकट किया कि वह पाप ग्रह जो व्यक्ति को आदम के वंशजों की जगह पर मरने के लिए भेजेगा और उनके पास और शर्म को दूर करेगा |

एक महान बलिदान के द्वारा वह उनके लिए जो उस पर विश्वास करेंगे एक द्वार खुलेगा कि मैं परमेश्वर के साथ हमेशा के लिए संगति कर सके भविष्य वक्ताओं ने इससे व्यक्ति को मसीह का और उन्होंने कहा कि परमेश्वर अपने लोगों को बचाने के लिए भेजेगा और उनका राज होगा और परमेश्वर के नाम से हमेशा उन पर राज करेगा उसके आने के कई 100 वर्ष पहले भविष्य वक्ताओं ने बताया कि मसीही क्या क्या करेगा और उसके साथ क्या क्या होगा उसके आने के कई 100 वर्ष पहले ही भविष्य वक्ताओं ने यह बता दिया था

कि मसीही क्या क्या करेगा और उसके साथ क्या क्या होगाभविष्य दाऊद ने कहा कि परमेश्वर मसीह के बारे में यह घोषणा करेगा तू मेरा पुत्र है अन्य भविष्य ने परमेश्वर के पुत्र के रूप में उसका वर्णन किया परमेश्वर के साथ घनिष्ठ संबंध बयान कर सके यह भविष्यवक्ता ने कहा कि एक कुंवारी गर्भवती होगी और एक पुत्र को उत्पन्न करेंगी उसका पुत्र परमेश्वर का वचन है जो जगत पर प्रगट हुआ!

आदम हव्वा की कहानी हिंदी में | Story of Adam Havva in Hindi

Who is Jesus

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *